छत्तीसगढ़ में एक बार फिर नक्सली हमला 4 जवान शहीद एवं 14 घायल। latest maoist news in chhattisgarh

latest maoist news in chhattisgarh,latest maoist news in sukma,latest maoist news in bastar,


latest maoist news in chhattisgarh

  • कड़ेनार की यह नक्सली घटना धौड़ाई और पल्लेनार के बीच नक्सलियों के बस को बम से उड़ाया गया। 
  • पुलिस के जवान नक्सली ऑपरेशन के बाद लौट रहे थे तभी घात लगाए जवानों ने नक्सलियों ने बस को ब्लास्ट कर उड़ा दिया गया। 

छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में मंगलवार को नक्सलियों ने जवानों से भरी बस को बम ब्लास्ट कर उड़ा दिया। नक्सली में 4 जवान शहीद हो गए हैं, जबकि 8 घायल बताए जाने की सूचना मिली हैं।बम ब्लास्ट के दौरान बस में 24 जवान सवार थे।पुलिस को सूचना मिलते ही बैकअप फोर्स जवान को मौके पर रवाना कर दिया गया है। सभी जवान एक नक्सली ऑपरेशन में शामिल होने के पश्चात् लौट रहे थे। छत्तीसगढ़ के डीएम अवस्थी ने घटना की पुष्टि की है।

नारायणपुर में नक्सल विरोधी अभियान के बाद DRG फोर्स  के जवान वापस लौट रही थी। उसी दरमियान जवान से भरे बस  IED ब्लास्ट होने से ड्राइवर समेत 4 जवान शहीद हो गए। नक्सली घटना में दो जवान गंभीर रूप से घायल हुए हैं और 12 जवानों को सामान्य चोट लगने की जानकारी प्राप्त हुई है।घायल जवानों को वायुसेना के हेलीकॉप्टर से रायपुर भेजा जा रहा है।

छत्तीसगढ़ प्रदेश  chhattisgarh का अधिकांश भाग घने जंगलों से घिरा हुआ है ज्यादातर बस्तर दंतेवाड़ा नारायणपुर आसपास घने जंगल होने का फायदा उठाकर नक्सली घात लगाकर हमला करने में कामयाबी हासिल करने में सफल होते हैं । 

नारायणपुर जिले के कड़ेनार इलाके में धौड़ाई और पल्लेनार के बीच घना जंगल है। माओवादी ने यहीं पर घात लगाकर जवान से भरी बस को निशाना बनाकर IED ब्लास्ट किया है।  जवान मंदोड़ा जा रहा थे।आशंका जरूर जताई जा रही है कि शहीद जवानों की संख्या बढ़ सकती है। फिलहाल जवानों को रेस्क्यू करने का ऑपरेशन जारी है।

latest maoist news in chhattisgarh

आपको बता दें कि  घटना पूर्व नक्सलियों ने शांति वार्ता का प्रस्ताव भेजा था। नक्सलियों ने 17 मार्च को शांति वार्ता का प्रस्ताव सरकार के सामने रखा था। नक्सलियों ने विज्ञप्ति जारी कर कहा था कि वे जनता की भलाई के लिए छत्तीसगढ़ सरकार से बातचीत के लिए तैयार हैं। उन्होंने बातचीत के लिए तीन शर्तें भी रखीं थीं।

  1. सशस्त्र बलों को हटाना। 
  2. माओवादी संगठनों पर लगे प्रतिबंध हटाना ।
  3. जेल में बंद माओवादी नेताओं की बिना शर्त रिहाई। 

Tags, 

latest maoist news in chhattisgarh,latest maoist news in sukma,latest maoist news in bastar,