राजीव गांधी गोदग्राम कुल्हाड़ी घाट नदी उफान पर। राजीव गांधी जयंती पर कांग्रेसी नेताओं के लिए किसी इम्तिहान से कम नहीं।god gram panchayat,rajiv gandhi jayanti

kulhadi ghat nadi
गरियाबंद।मैनपुर तहसील मुख्यालय से 16 किमी दूर गढ़चिरौली मार्ग पर स्थित राजीव गांधी गोदग्राम (god gram) कुल्हाड़ी घाट में मुसलाधार बारिश होने के बावजूद राजीव गांधी जयंती मनाया गया।
ग्रामपंचायत कुल्हाड़ी घाट (kulhadi ghat) घने जंगलों के बीच बसा हुआ कमार आदीवासी बाहुल्य आबादी है। जहां पर आधुनिक भारत के निर्माता युवाओं के प्रेरणास्त्रोत स्व. राजीव गांधी वर्ष 1985 में पधार कर कुल्हाड़ी घाट पंचायत को गोद लिया तब से ही कुल्हाड़ी घाट निरंतर विकास की ओर अग्रसर है।
  • यह भी पढ़ें....
छत्तीसगढ़ में किसानों की फसल हो रही बर्बाद....

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधीजी (rajiv gandhi) का जन्म 20 अगस्त 1944 को हुआ था।जिनका स्टैच्यू रुप स्मारक कुल्हाड़ी घाट में यादगार हेतु स्थापित किया गया है।हर वर्ष कुल्हाड़ी घाट में यहां बसे कमार आदीवासी लोग यादगार स्वरुप 20 अगस्त को जयंती के रुप में मनाते हैं।

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एवं जिला पंचायत उपाध्यक्ष संजय नेताम (sanjay netam) उनके सहयोगियों के साथ ग्राम कुल्हाड़ी घाट राजीव गांधी प्रतिमा स्थल पर पहुंचकर जन्म दिवस मनाया गया।मुसलाधार बारिश होने के वजह से बुढ़ाराजा नदी में बाढ़ का पानी इस कदर बढ़ा कि पुल से 3 फीट ऊपर पानी बहने से जिला पंचायत उपाध्यक्ष संजय नेताम एवं सभी कांग्रेसी नेताओं को वापिस होते वक्त घंटों देर इंतजार करना पड़ा।